Suniel Sir

Suniel Sir Blog

कीवर्ड रिसर्च कैसे करें: How To Do Keyword Research

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका एक और शानदार टॉपिक में जिसका नाम है How To Do Keyword Research. आप ने जरूर यूट्यूब, गूगल आदि पर ये जरूर सर्च किया होगा की कीवर्ड रिसर्च कैसे करें? लेकिन उसके बाद भी अगर आप इस पोस्ट को पढ़ रहें हैं तो इसका मतलब हो सकता है की आप अभी तक ठीक से नहीं जान पाएं है की Keyword Research आखिर कैसे की जाती है?

keyword research kaise kare
Keyword Research Kaise Kare

एक SEO होने के नाते हम सर्च इंजन के लिए किसी वेबसाइट को ऑप्टिमाइज़ करने में कीवर्ड रिसर्च के महत्व को समझते हैं। कीवर्ड रिसर्च करने से हमें हमारे ब्लॉग या कॉन्टेंट के लिए सही ऑडियंस मिलती है साथ ही यह आर्गेनिक ट्रैफिक को भी अपने ब्लॉग पर लाने में मदद करता है।

हालांकि, कीवर्ड रिसर्च अपने आप में एक मेहनत का काम है जिसे हर एक ब्लॉगर या वेबसाइट ओनर करता है, इसे करने में शायद आपका ज्यादा समय लगे लेकिन इसका रिजल्ट सच में बहुत अच्छा निकलता है।

आगे चलने से पहले आपको यह भी समझना जरुरी है की आपने चाहे अपने पोस्ट को कितना भी अच्छा लिखा हो, कितनी भी अच्छी कीवर्ड रिसर्च की हो तब भी आपका हर एक पोस्ट गूगल में रैंक करे ये possible नहीं है।

कीवर्ड रिसर्च कैसे करें: How To Do Keyword Research

एक ब्लॉगर जितना समय एक ब्लॉग को लिखने में लगता है उतना ही समय उसको keyword Research में देना चाहिए, नहीं तो हो सकता है आपकी पहली मेहनत ख़राब हो जाये। तो बिना किसी और देरी के शुरू करते हैं।

Define your Objectives – अपने उद्देश्यों को समझें

कीवर्ड रिसर्च करने में पहला कदम अपने उद्देश्यों को समझना है। यानी आप अपने SEO से क्या हासिल करना चाहते हैं? क्या आप ट्रैफ़िक बढ़ाना चाहते हैं, लीड लाना चाहते हैं या सेल बढ़ाना चाहते हैं? ऐसा इस लिए क्यूंकि हर वेबसाइट का रोल अलग अलग हो सकता है जैसे अगर आप एक ब्लॉगर है तो आप ऐसे कीवर्ड की तलाश करेंगे जिसमे ज्यादा ट्रैफिक हो और वहीँ अगर आपका कोई ecommerce store है तो आप ऐसे कीवर्ड तलाश करेंगे जिसमे आपके प्रोडक्ट की जरुरत पड़ती हो।

Brainstorm your initial keyword ideas – अपने कीवर्ड पर ठीक से विचार करें

अब जब आप जानतें है की आपको आखिर किस तरह की ऑडियंस को आपने ब्लॉग पर टारगेट करना है, तो आपका अगला कदम आपके Main Keyword पर मंथन करना होता है। आपके दिमाग में आने वाले सबसे अधिक कीवर्ड्स को कॉपी में लिखें। ये कीवर्ड आपके व्यवसाय और आपके द्वारा प्रदान किए जाने वाले कॉन्टेंट से Relate करने चाहिए। अपने पहले कीवर्ड को ध्यान में रखकर आप Google कीवर्ड प्लानर, SEMrush और Ahrefs जैसे ऑनलाइन टूल का भी उपयोग कर सकते हैं।

Analyze your competitors’ keywords – अपने कॉम्पिटिटर को पहचाने

हर एक फील्ड में कॉम्पिटिटर जरूर होता है, अपने Main Keyword को गूगल में सर्च करें और टॉप 5 Pages जो रैंक हो रहें हो उन्हें देखें की आखिर उन्होंने अपने पोस्ट को किस तरह से लिखा है, कैसे कीवर्ड प्लेस्मेंट की है, कितने शब्दों का पोस्ट लिखा है आदि। साथ ही उनकी वेबसाइट पर यह भी चेक करें की उनकी वेबसाइट किस किस कीवर्ड पर रैंक हो रही है और उन कीवर्ड्स पर कितना ट्रैफिक है। आप अपने कॉम्पिटिटर के कीवर्ड की पहचान करने के लिए SEMrush, Ahrefs और SpyFu जैसे ऑनलाइन टूल का उपयोग कर सकते हैं।

Must Check keyword difficulty – कीवर्ड डिफीकल्टी जरूर जांच लें

एक नए ब्लॉगर होने के नाते आपको यह जानना बेहद जरुरी है की जिस कीवर्ड पर आप काम कर रहे हो उसका keyword difficulty Level क्या है? अगर आप एक ऐसे कीवर्ड पर काम करने लग जाते हो जिसका KD (Keyword Difficulty) बहुत ज्यादा है तो उन कीवर्ड्स पर आपका रैंक करना लगभग असंभव हो जाता है। कीवर्ड keyword difficulty किसी कीवर्ड के लिए उसपर हो रहे कम्पटीशन के स्तर को दिखता है। कीवर्ड की कठिनाई जितनी अधिक होगी, उस कीवर्ड के लिए रैंक करना उतना ही कठिन होगा। कीवर्ड कठिनाई का देखने केलिए आप Moz, SEMrush और Ahrefs जैसे ऑनलाइन टूल का उपयोग कर सकते हैं। चाहे तो आप Free Keyword Research Tool का भी इस्तेमाल कर सकते हैं जैसे Google Keyword Planner या Uber Suggest.

एक एक्सेम्पल से समझते हैं।

How To Do Keyword Research
  • हमने Ahref के एक फ्री टूल का इस्तेमाल करके एक कीवर्ड लिया है “computer kya hai”
  • इसमें हमारे Main Keyword की difficulty 17 और Volume 24K दिखा रहा है।
  • हालाँकि 17 की difficulty वाले कीवर्ड आसान होते है लेकिन एक नयी वेबसाइट के लिए ये थोड़ा मुश्किल है।
  • एक नई site के लिए उसकी Keyword Difficulty 0 से 5 के बीच की होनी चाहिए।
  • इसकी जगह जो कीवर्ड्स आपको 1 और 0 की KD में दिखाई दे रहे हैं शुरू में ऐसे कीवर्ड्स पर काम करना सही होगा।

शुरुवात में आपको ज्यादा वॉल्यूम की तरफ नहीं भागना है। आप बस ये सुनिश्चित करें की कीवर्ड डिफीकल्टी(KD) 0 से 5 के बीच हो और वॉल्यूम 200 से 2000 के बीच, अगर वॉल्यूम ज्यादा हो तो भी चलेगा लेकिन KD ज्यादा नहीं होनी चाहिए।

पहले कोशिश करें की आप Long Tail Keywwords पर काम करें उसमे Copetition कम होता है और आपके टॉपिक को एक्यूरेट समझाते हैं।

Long tail Keyword क्या होते है

एक Long tail Keyword ऐसे कीवर्ड्स को कहते हैं जिनमे 3 या फिर 3 से ज्यादा वर्ड्स होते हैं।

Long tail keywords को mass audience की जगह सिर्फ targeted audience लाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। दूसरें शब्दों में ये काफी specific होते हैं और conversions जैसे cases में बढ़िया रिजल्ट लाते हैं.

इनमे competition भी अक्सर कम ही मिलता है. इनको use करके आप आसानी से अपने articles को search engine में rank करवा सकते हैं. सीधे तौर पर इनको use करके आपके ब्लॉग को बहुत ज्यादा फायदा होता है.

उदाहरण के तौर पर यदि गूगल में सिर्फ “Best Computer ” सर्च किया जाय तो हमारे सामने विभिन्न प्रकार के कंप्यूटर की लिस्ट आ जाती है. लेकिन यदि हम “Best Computer under 30000” सर्च करें तो हमें सिर्फ 30000 रुपए तक के Computer दिखाए जाएंगे.

हालांकि Long tail Keyword की मासीक सर्च वॉल्यूम short-tail keywords की तुलना में बहुत कम होती है. लेकिन, Long Tail Keyword का कंपीटिशन शॉर्ट टेल कीवर्ड की तुलना अधिकतर काम ही मिलता है.

जिससे इसे रैंक करवाना काफी हद तक आसान हो जाता है. ऐसे कीवर्ड का उपयोग करके सर्च करने उद्देश्य आसानी से समझा जा सकता है. यदि आप short-tail keywords का इस्तेमाल करते है और यदि आपको वेबसाइट रैंक हो भी जाती है तो आप विजीटर्स से यह उम्मीद नहीं कर सकते कि वह आपके वेबसाइट पर अधिक समय दे.

क्योंकि short term keywords का उपयोग करने वाले विजीटर्स के बारे में आप नहीं जानते कि आखिर वे क्या सर्च कर रहे हैं. इसीलिए हो सकता है आपके वेबसाइट में उन्हें उनके पसंद की जानकारी न मिले और वे आपकी वेबसाइट को छोड़कर चले जाएं.

अगर ऐसा होता है तो आपकी वेबसाइट का बाउंस रेट बढ़ सकता है. लेकिन यदि आप Long tail Keyword का इस्तेमाल करते हो तो जब भी विजीटर्स आएंगे वे आपके वेबसाइट पर समय अवश्य देंगे क्योंकि उन्हें आपकी वेबसाइट पर वही चीजें मिलेगी जिसकी उन्हें तलाश कर रहे थे.

Create Content That Targets Your Keywords

पिछले सभी स्टेप्स को करने के बाद आपका अगला स्टेप आपके कीवर्ड को ध्यान में रखते हुए कॉन्टेंट लिखना है। आपकी पोस्ट relevant, informative और engaging होनी चाहिए। आप अपने कीवर्ड्स से संबंधित सबसे लोकप्रिय विषयों की पहचान करने के लिए Google Trends और Buzzsumo जैसे ऑनलाइन टूल का भी उपयोग कर सकते हैं।

अपने परिणामों को मॉनिटर करें – monitor your results

अपने keyword research को और भी प्रभावशाली बनाने के लिए अपने परिणामों को मॉनिटर करना एक जरुरी स्टेप है। आप अपने वेबसाइट ट्रैफ़िक, कीवर्ड रैंकिंग और conversions पर नज़र रखने के लिए Google Analytics और Google Search Consol जैसे ऑनलाइन टूल का उपयोग कर सकते हैं। यह आपको उन points की पहचान करने में मदद करेगा जिनमें सुधार की जरुरत है और अपनी SEO strategy को आप और भी सही तरीके से कर पाएंगे।

निष्कर्ष – कीवर्ड रिसर्च कैसे करें

तो आशा करता हूँ आज के इस पोस्ट How To Do Keyword Research में आप समझ गए होंगे की आपको keyword research के दौरान किन किन स्टेप्स को करना चाहिए। बाकी SEO करना एक समझने वाली प्रक्रिया है जिसे वक़्त के साथ साथ सीखा जायेगा। जैसे जैसे आप नए पोस्ट लिखेंगे आप उनमे अपने आप सुधार करना शुरू कर देंगे।

अंतिम शब्द – Last Words

अगर आप WordPress यूजर हैं तो Rank Math या फिर Yoast में से किसी एक plugin का उपयोग जरूर करें, ये आपको आपके पोस्ट के लिए क्या सही है और क्या नहीं Guide करेगा, जिससे आपको पोस्ट लिखने में काफी आसानी होगी।

धन्यवाद।

Also Read: Seo Friendly Blog Post Kaise Likhe

नमस्कार दोस्तों मेरा नाम है Suniel Singh है. मैं इस ब्लॉग का Author हूँ। पेशे से मैं एक कंप्यूटर टीचर जो और मैं पिछले 15 सालों से मैं कंप्यूटर सीखा रहा हूँ। मैं पिछले 2 सालों से Digital Marketing कर रहा हूँ और सीखा भी रहा हूँ। इस ब्लॉग को शुरू करने के पीछे मेरा उद्देश्य है की मैं ज्यादा से ज्यादा लोगो तक कुछ नया सीखा सकूँ।

2 thoughts on “कीवर्ड रिसर्च कैसे करें: How To Do Keyword Research”

Leave a Comment

About us page for a website – best seo tools. Online marketing tools for your business.